Low Sperm Count Success Story in Hindi

कहते हैं न कि अगर हिम्मत ना हारो और उम्मीद न छोड़ों तो सफलता ज़रूर हासिल होती है। दरअसल मेरी शादी को सात वर्ष हो चुके थे और हमारी अरेंज मैरिज थी। एक दूसरे को समझने और वक़्त बिताने में कब 4 साल निकल गए पता नहीं चला, लेकिन इन 4 सालों में निरंतर प्रयास के बाद भी हमारे संतान की इच्छा पूरी नहीं हो पा रही थी।

बढ़ते वक़्त के साथ मेरी पत्नी की परेशानी मुझसे देखी नही जा रही थी। कई डॉक्टरों और अस्पतालों के चक्कर काटे, कई इलाज करवाएं लेकिन हर जगह से निराशा ही हाथ लग रही थी।

समाज में रहने वाले हमारे अपने, आस-पड़ोस के लोगों ने तरह-तरह की बातें करना शुरू कर दिया था, तो कई लोगों ने मेरी पत्नी को बाँझ कहना शुरू कर दिया था। लोगों के ताने दिन-प्रतिदिन बढ़ते जा रहे थे, जिसके कारण मेरी पत्नी ने घर से बाहर निकलना ही बंद कर दिया।

जब कई डॉक्टरों और अस्पतालों के चक्कर काटकर हम थक चुके थे, हमारी आशा निराशा में तब्दील हो चुकी थी। तब एक रोज़ हमारी ज़िन्दगी में एक उम्मीद की किरण नज़र आई। ऑफिस जाते समय रेडियो पर मेडिकवर फर्टिलिटी के बारे में सुना और तुरंत इन्टरनेट पर सर्च किया, अत्याधुनिक यूरोपिन तकनीक की योगिता मौजूद होने के बारे में जानकर, मैंने मेडिकवर फर्टिलिटी जाने का फ़ैसला लिया।

मेडिकवर के डॉक्टर ने हमारे कुछ टेस्ट करवाएं और बताया कि मेरे शुक्राणु की कमी के कारण, मेरी पत्नी माँ नहीं बन पा रही है। इलाज स्वरूप हमें आई वी एफ कराने की सलाह दी। लेकिन मैंने डॉक्टर को बताया कि मेरी पत्नी का 1 आई वी एफ फ़ैल हो चूका है। डॉक्टर ने हमारी परेशानी को देखते हुए अपनी लैब में होने वाले आई वी एफ प्रक्रिया को दिखाया और समझया।

यह सब कुछ देख और समझ के एक भरोसा तो बन गया लेकिन अत्याधुनिक तकनीक देखकर इलाज का खर्चा भी सोच लिया था। 7 सालों में काफी पैसा लगा चूका था, मगर मेडिकवर फर्टिलिटी ने अपनी विस्तृत और स्पष्ट जानकारी दी।

पूरी बात-चीत के दौरान एक उम्मीद नज़र आने लगी थी। मुझे और मेरी पत्नी को लगा कि इस बार हम शायद सही जगह आ पहुंचे है। हमने अपना इलाज शुरू करवाया और कुछ समय के भीतर ही मेरी पत्नी का गर्भ ठहरा और मेरा घर आज के समय में मेरी नन्ही परी की किलकारियों से गूंजता है। जो एक समय में मेरी पत्नी को बाँझ के ताने दिया करते थे, आज वो मेरी परी के लिए नए-नए खिलौने लेकर आते हैं साथ ही ढेर सारी शुभकामनाएं। कहते है ना सही फैसला सही वक़्त पर आपकी ज़िन्दगी बदल सकता है वैसे ही हम मेडिकवर फर्टिलिटी का दिल से धन्यवाद करते हैं, उन्होंने हमारी निराशा को आशा में बदला।

लेखक Swati