Test Tube Baby in Hindi

टेस्ट ट्यूब बेबी उन दंपत्तियों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है, जो संतान सुख से वंचित हैं, क्योंकि उन्हें इसके द्वारा संतान सुख मिल सकता है। हालांकि, अभी भी अधिकतर लोगों को पूरी तरह से इसकी जानकारी नहीं है की आख़िरकार टेस्ट ट्यूब बेबी क्या है? (What is Test Tube Baby in Hindi?) इन-विर्टो फर्टिलाइजेशन तकनीक से जन्मे बच्चे को टेस्ट ट्यूब बेबी (Test Tube Baby in Hindi) के नाम से जाना जाता है।

टेस्ट ट्यूब बेबी क्या है? (What is Test Tube Baby in Hindi?)

टेस्ट ट्यूब बेबी (Test Tube Baby Meaning in Hindi) एक ऐसा शब्द है जो कभी-कभी मीडिया द्वारा इन विट्रो फर्टिलाइजेशन (आई वी एफ) के साथ गर्भ धारण करने वाले बच्चों को संदर्भित करने के लिए उपयोग किया जाता है। हालांकि, इसका बस नाम टेस्ट ट्यूब बेबी है लेकिन इस प्रक्रिया में बच्चे टेस्ट ट्यूब में विकसित नहीं होते हैं।

आई वी एफ और टेस्ट ट्यूब बेबी प्रक्रिया (Test Tube Baby Process in Hindi) में कोई अंतर नहीं है, दोनों की प्रक्रिया सामान होती है।

आई वी एफ की प्रक्रिया में महिला के अंडाशय से अंडे को निकालकर, उसे पुरुष के शुक्राणु के साथ लैब में फर्टिलाइज़ किया जाता है। फर्टिलाइज़्ड होने के बाद तैयार हुए भ्रूण को महिला के गर्भाशय में ट्रांसफर करते है।

टेस्ट ट्यूब बेबी की ज़रूरत किन्हें होती है?

इनफर्टिलिटी की समस्या से पीड़ित दम्पत्तियों के लिए इन विर्टो-फर्टिलाइजेशन की तकनीक की सलाह दी जाती है।

इनफर्टिलिटी के कुछ मुख्य कारणों में शामिल है -

फैलोपियन ट्यूब ब्लॉकेज - यदि फैलोपियन ट्यूब में किसी भी कारण से कोई रूकावट हो जाए या खराब हो जाए।

ओवुलेशन की समस्या - महिला के ओवुलेशन में समस्या होने पर आई वी एफ की मदद से गर्भधारण किया जा सकता है।

गर्भाशय में समस्या - गर्भाशय में किसी भी प्रकार की समस्या या उसका आकार सही ना होना।

बच्चेदानी में रसौली - महिलाओं को बच्चेदानी में रसौली के कारण बाँझपन की दिक्कत हो सकती है।

पुरूष बांझपन की समस्या - शुक्राणु का ख़राब आकर, शुक्राणु की संख्या और गति में कमी होने पर टेस्ट ट्यूब बेबी तकनीक का प्रयोग किया जाता है।

​​​​टेस्ट ट्यूब बेबी कैसे होता है? (Test Tube Baby Kaise Hota Hai?)

टेस्ट ट्यूब बेबी की प्रक्रिया (Test Tube Baby Process in Hindi) में निम्नलिखित स्टेप शामिल होते हैं -

  • सबसे पहले महिला को इंजेक्शन दिए जाते है, जिससे अधिक अंडों का विकास हो सकें।
  • पुरुष के सीमेन को लैब में साफ़ किया जाता है। फिर सक्रिय (अच्छे) और असक्रिय (बेकार) शुक्राणुओं को अलग किया जाता हैं।
  • महिला के शरीर में से अंडे को बाहर निकाला जाता है।
  • फिर लैब में पेट्री-डिश में अंडे और शुक्राणु को फर्टिलाइज़ किया जाता है।
  • फर्टिलाइज़ेशन के बाद तीसरे दिन तक भ्रूण तैयार हो जाता है।
  • कैथिटर (Catheter) की मदद से महिला के गर्भाशय में भ्रूण को ट्रासंफर किया जाता है।
  • कई बार भ्रूण को 5 दिन तक की निगरानी के बाद महिला के गर्भाशय में ट्रासंफर करते है। 5 दिन वाले भ्रूण से गर्भधारण होने की संभावना बढ़ जाती है।

टेस्ट ट्यूब बेबी का खर्चा कितना होता है? (Test Tube Baby Ka Kharcha in Hindi)

हर एक अस्पताल और क्लिनिक के आई वी एफ ट्रीटमेंट की कीमत अलग हो सकती है। यदि कोई दंपत्ति ट्रीटमेंट करवाना चाहता है, तो उनके लिए इसकी कीमत भारत में लगभग ₹1 लाख से ₹1.5 लाख तक हो सकती है।

टेस्ट ट्यूब बेबी की सफल की कहानी

शादी के 2 साल के बाद जब मैंने माँ बनने का सोचा, निरंतर प्रयास के बाद भी गर्भ नहीं ठहरने के कारण मैंने कई जगह इलाज करवाएं। लेकिन फिर भी मुझे हर बार निराश लौटना पड़ा। फिर एक दिन मेरी सहेली ने मुझे फर्टिलिटी डॉक्टर के पास जाने की सलाह दी। इंटरनेट पर ढूंढ़ने पर मुझे मेडीकवर फर्टिलिटी क्लिनिक के बारे में पता चला और अगले दिन मैं वहाँ गई।

डॉक्टर ने मेरी टेस्ट रिपोर्ट को देखने के बाद मुझे टेस्ट ट्यूब बेबी की सलाह दी। मेरे घबराने पर उन्होंने मुझे पूरा ट्रीटमेंट समझाया और मेरे हर सवाल का जवाब दिया।

मेरा ट्रीटमेंट शुरू हुआ और कुछ ही समय में आई वी एफ के ज़रिए मुझे मेरी संतान का सुख मिला। मैं मेडीकवर फर्टिलिटी की बहुत आभारी हूँ कि उन्होंने मेरी निराशा को आशा में बदल दिया।

टेस्ट ट्यूब बेबी के लिए मेडिकवर फर्टिलिटी एक अच्छा विकल्प है।

मेडिकवर फर्टिलिटी एक अंतराष्ट्रीय फर्टिलिटी क्लिनिक हैं। यहाँ के डॉक्टर सभी तरह के ट्रीटमेंट करने के लिए पूरी तरह से सक्षम हैं। यहाँ एडवांस्ड तकनीकों और उपकरणों के प्रयोग से जाँच की जाती है और आपकी जानकारी पूरी तरह से गुप्त रखी जाती है। मेडिकवर फर्टिलिटी ने आई वी एफ के कई सफल ट्रीटमेंट किए है, जिनसे कई महिलाओं को माँ बनने का सुख मिला है।

मेडिकवर फर्टिलिटी में आर आई विटनेस (RI Witness) का प्रयोग किया जाता है। आई वी एफ लैब में होने वाली संभावित किसी भी प्रकार की गलतियों को रोकने में आरआई विटनेस से मदद मिलती है। इससे यह सुनिश्चित होता है की एम्ब्र्यो के लिए आपका ही सैंपल (एग और स्पर्म) का प्रयोग किया गया है। लोगों में आजकल इसके बारे में फिल्मों को देखने के बाद काफी जागरूकता बढ़ गई है। मेडिकवर फर्टिलटी में यह सुविधा पहले से ही उपलबध है, जिसका लाभ कई दम्पत्तियों को मिला है।

यदि आपको इस विषय से सबंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो आप इस नंबर पर +917862800700 संपर्क कर सकते है।

FAQs

प्रश्न : टेस्ट ट्यूब बेबी का क्या मतलब है? (What is meant by test tube baby?)

उत्तर : यह एक प्रक्रिया है जिसमें अंडे को शुक्राणु के साथ लैब में यानि महिला के शरीर से बहार फर्टिलाइज़ करने के बाद भ्रूण को गर्भशय में ट्रांसफर किया जाता है, जो बाद में एक बच्चे में विकसित होता है।

प्रश्न : क्या टेस्ट ट्यूब बेबी स्वस्थ होते है? (Is test tube baby healthy?)

उत्तर : हाँ, वह पूरी तरह से स्वस्थ होते है क्योंकि इसमें बस फर्टिलाइज़ेशन की प्रक्रिया ही शरीर से बहार की जाती है, बाकि गर्भधारण की पूरी प्रक्रिया साधारण यानि नेचुरल प्रेगनेंसी की तरह ही होती है।

प्रश्न : टेस्ट ट्यूब बेबी के लिए क्या प्रक्रिया है? (What is the procedure for test tube baby?)

उत्तर :आई वी एफ यानि टेस्ट ट्यूब बेबी प्रक्रिया में महिला के अंडे को शरीर से बहार निकाला जाता है, और फिर लैब में पुरुष के शुक्राणु के साथ फर्टिलाइज़ किया जाता है। फर्टिलाइज़ेशन के बाद भ्रूण को गर्भशय में ट्रासंफर करते है।

References :

https://embryo.asu.edu/pages/test-tube-baby

https://www.ajog.org/article/S0002-9378(15)33290-7/pdf

https://www.verywellfamily.com/what-does-in-vitro-mean-1960211