• Blog

    Due to Corona Virus, Why Medicover Fertility is not Giving Treatment to the New Patients in Hindi?

    27.03.2020
    कोरोना के नाम से कोई भी अनजान नहीं है। कोरोना वायरस ने एक गंभीर स्थिति भारत में उत्पन्न कर दी है। इसलिए कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए भारत सरकार ने 21 दिनों की बंदी की घोषणा की है।
  • Blog

    How to Get Pregnant with Irregular Periods?

    21.01.2020
    Irregular periods or missed menstruation are the major contributing factor to infertility in women. It accounts for 30-40% of all female infertility cases. A woman’s body prepares itself every month for pregnancy. The cycle starts with the thickening of uterine walls, followed by the growth of an egg. Once the follicles mature, the egg is released from the ovary into the fallopian tubes called...
  • Blog

    How to Get Pregnant with PCOS?

    21.01.2020
    Polycystic Ovarian Syndrome (PCOS) is an extremely prevalent hormonal disease in women of reproductive age. It is also known as Stein Leventhal Syndrome after two doctors who first described it in the year 1935. According to the various surveys, it is found to be the most common reason for menstrual irregularities in 4-12% of women of reproductive age. 5-10% of women develop PCOD problem during their...
  • Blog

    Hyderabad Me Test Tube Baby Ka Kharcha

    20.01.2020
    हैदराबाद में आई वी एफ का खर्चा (Cost of IVF in Hyderabad in Hindi) हर एक क्लिनिक और अस्पताल में अलग हो सकता है। किसी भी दंपति को आई वी ट्रीटमेंट विचार शुरू करने से पहले खुद को भावनात्मक, शारीरिक और आर्थिक रूप से तैयार करना पड़ता है। हर एक व्यक्ति दूसरे व्यक्ति से अलग होता है इसलिए उनके उपचार की योजना भी अलग-अलग होती है, जो रोगी के पूर्व चिक्तिसा इतिहास, बाँझपन की समस्या के कारणों और गंभीरता पर आधिरित...
  • Blog

    Ovarian Cyst in Hindi

    20.01.2020
    ओवेरियन सिस्ट (Ovarian Cyst in Hindi) अंडाशय या उसकी सतह पर गांठ यानि थैली जैसे होते हैं। यह महिलाओं में पाई जाने वाली के आम बीमारी है। साथ ही इस कारण से महिलाओं में बांझपन की समस्या भी हो सकती है। विस्तार से जानते है ओवेरियन सिस्ट क्या होता है? (Ovarian Cyst Kya Hota Hai)
  • Blog

    Thin Endometrium in Hindi

    20.01.2020
    बच्चेदानी यानि गर्भाशय की एंडोमेट्रियम लेयर का पतला होना बांझपन के मुख्य कारणों में से है। जिन महिलाओं की बच्चेदानी की लाइनिंग पतली होती है, उन्हें गर्भधारण करने में बहुत सी मुश्किलों का सामना करना पड़ता है। गर्भधारण के लिए अच्छी क्वालिटी के अंडे और शुक्राणु के साथ-साथ अच्छी एंडोमेट्रियम (Endometrium in Hindi) लाइनिंग का होना भी बहुत ज़रूरी होता है। क्योंकि अच्छी क्वालिटी का भ्रूण होने के बाद भी अगर...
  • Blog

    Bulky Uterus in Hindi

    15.01.2020
    आमतौर पर बच्चेदानी में सूजन (Bulky Uterus in Hindi) के कारण महिलाओं को गर्भधारण करने में बहुत सी समस्याओं का सामना करना पड़ता है। यह बांझपन के मुख्य कारणों में से एक है। महिलाओं के गर्भाशय का आकार बंद मुट्ठी या नाशपाती के बराबर होता है और प्रेगनेंसी के दौरान इसका आकार बहुत बढ़ जाता है। प्रेगनेंसी के अलावा सामान्य अवस्था में भी कई बार महिलाओं के गर्भाशय में सूजन आ जाती है। सामान्य अवस्था में गर्भाशय...
  • Blog

    What is ICSI

    13.01.2020
    ICSI treatment process was introduced in the year 1992 to improve fertilisation in couples. Intracytoplasmic Sperm Injection, a step ahead in the IVF treatment technique, has revolutionised male infertility in recent years. It gives men with poor quality of sperm, the chance of fathering their children. In natural conception, many millions of sperm cells in each ejaculation are necessary for...
  • Blog

    AMH Test in Hindi

    13.01.2020
    एएमएच यानि एंटी-मुलेरियन हार्मोन (Anti Mullerian Hormone in Hindi) एक प्रकार का हॉर्मोन होता है जो अंडाशय के अंदर मौजूद फॉलिकल्स के ग्रनुलोसा सेल (Granulosa Cells) के द्वारा बनाया जाता है। इस एएमएच के स्तर से हमें ओवेरियन रिज़र्व के बारे पता चलता है की ओवरी के अंदर कितने फॉलिकल्स या अंडे बचे हुए है। एएमएच की मात्रा का पता लगाने के लिए एएमएच टेस्ट (AMH Test in Hindi) किया जाता है। एंटी-मुलेरियन...
  • Blog

    IVF Process Step by Step in Hindi

    13.01.2020
    आई वी एफ यानि इन-विट्रो फर्टिलाइजेशन तकनीक निःसंतान दम्पत्तिओं के लिए किसी वरदान से कम नहीं है। यह असिस्टेड रिप्रोडक्टिव टेक्नोलॉजी (ART) की एक तकनीक है, जो इनफर्टिलिटी की समस्या से जूझ रहे दम्पत्तिओं के लिए सबसे सफल तकनीक मानी जाती है।
  • Blog

    Test Tube Baby in Hindi

    07.01.2020
    टेस्ट ट्यूब बेबी उन दंपत्तियों के लिए किसी वरदान से कम नहीं है, जो संतान सुख से वंचित हैं, क्योंकि उन्हें इसके द्वारा संतान सुख मिल सकता है। हालांकि, अभी भी अधिकतर लोगों को पूरी तरह से इसकी जानकारी नहीं है की आख़िरकार टेस्ट ट्यूब बेबी क्या है? (What is Test Tube Baby in Hindi?) इन-विर्टो फर्टिलाइजेशन तकनीक से जन्मे बच्चे को टेस्ट ट्यूब बेबी (Test Tube Baby in Hindi) के नाम से जाना जाता है।
  • Blog

    Donor Egg IVF in Hindi

    06.01.2020
    महिला की उम्र 40 वर्ष से अधिक होने पर वह बहुत से बदलावों का अनुभव करती है जैसे- चेहरे पर झुरिया, आंखों का कमजोर होना, बालों का गिरना या सफ़ेद होना आदि के साथ-साथ महिलाओं में प्रजनन क्षमता भी कम हो जाती है। इसलिए एक महिला की उम्र बढ़ने के साथ उसका माँ बन पाना मुश्किल होता चला जाता है। ऐसे में गर्भधारण के लिए आई वी एफ और डोनर एग के साथ आई वी एफ (Donor Egg IVF in Hindi) जैसी तकनीकें मौजूद है।
  • Blog

    Recurrent Miscarriage in Hindi

    30.12.2019
    गर्भपात की समस्या एक बहुत ही आम बात है। लेकिन बार-बार गर्भपात होना (Bar Bar Garbhpat Hona) एक समस्या की बात है। किसी भी महिला के जीवन में गर्भपात की स्थिति वास्तव में एक बहुत ही दुखद स्थिति होती है। इसका प्रभाव उनकी मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य पर पड़ता है। इसलिए ऐसी स्थिति में सकारात्मक रहना बहुत ही महत्वपूर्ण है।
  • Blog

    Male Infertility in Hindi

    30.12.2019
    किसी भी पुरुष के एक पिता बनने में असमर्थ होने को पुरुष बांझपन (Male Infertility in Hindi) कहा जाता हैं। बांझपन एक वह समस्या है, जिसमें दंपत्ति, एक वर्ष या उससे अधिक समय के प्रयास के बाद भी गर्भधारण करने में असमर्थ होते है। 90 प्रतिशत के करीब पुरुषों में इनफर्टिलिटी यानि बांझपन का कारण शुक्राणु की कमी और खारब क्वालिटी है। सीमेन यानि वीर्य में स्पर्म काउंट कम होता है, तो इससे महिला को गर्भधारण करने...
  • Blog

    Female Infertility in Hindi

    16.12.2019
    महिला बाँझपन का अर्थ है कि महिलाओं में होने वाली बांझपन (Infertility in Hindi) की समस्या। विश्व भर में इनफर्टिलिटी की समस्या से जूझ रहे लोगों की संख्या दिन पर दिन बढ़ती ही जा रही है। इनफर्टिलिटी की समस्या महिला और पुरुष दोनों को सामान रूप से प्रभावित करती है।
  • Blog

    PCOS and Pregnancy in Hindi

    14.12.2019
    बांझपन की समस्या से पीड़ित लगभग एक-तिहाई महिलाओं में पीसीओएस की बीमारी पाई गई है। यह बांझपन के मुख्य कारणों में से एक है जिसके कारण उन्हें गर्भधारण होने में दिक्कते होती है। पीसीओएस को लेकर लोगों के बीच मिथक है की इस बीमारी के कारण महिला गर्भवती नहीं हो सकती हैं, वास्तव में इसके लिए उपचार मौजूद है जिनकी मदद से महिला का गर्भधारण हो सकता है।
  • Blog

    Recurrent Miscarriage

    13.12.2019
    A number of pregnancy conceptions are generally abnormal and end in miscarriage. It is the most common complication of pregnancy. Recurrent miscarriage, the loss of three or more consecutive pregnancies, affects almost 1% of couples trying to conceive. It is usually associated with psychological stress and is often proved to be frustrating for both couple and fertility experts.
  • Blog

    IVF Cost in Hyderabad

    13.12.2019
    Amongst all the Assisted Reproductive Technology (ART) for infertility, IVF (IN-Vitro Fertilization) is considered to be the most common and effective medical treatment today. It is the process in which the fertilisation takes place outside the body. Once the sperm and eggs are retrieved, they are fertilized in the lab, and the then formed embryo is transferred to the uterus to implant. Through this...
  • Blog

    Male Infertility and IVF

    13.12.2019
    IVF, as an effective treatment of male infertility, was developed as a result of a discovery that relatively few sperms are required to achieve fertilization that takes place outside the body. With improved methods in IVF, it became apparent that as long as lower concentrations of motile spermatozoa were obtained, IVF could be used for the treatment of male infertility. Moreover, the current...
  • Blog

    Nil Shukranu Ke Karan

    10.12.2019
    पुरुषों में निःसंतानता के कारण शुक्राणु की खराब क्वालिटी, कम संख्या और निल शुक्राणु होता है। वीर्य में स्पर्म काउंट कम होने या निल शुक्राणु के कारण महिला के गर्भधारण होने में समस्या आती है।