IUI ke baad ki savdhani

आई यू आई का अर्थ इंट्रायूटेरिन इनसेमिनेशन है यह पुरुष बांझपन की समस्या के लिए एक सफल इलाज है। आई यू आई प्रक्रिया की मदद से कई दम्पत्तियों को माता-पिता बनने का सुख प्राप्त हुआ हैं। लेकिन आई यू आई के बाद रखनी पड़ती है कुछ सावधानियां।

आईयूआई के बाद की सावधानी

आई यू आई के बाद सावधानी क्यों रखनी पड़ती है? (IUI Ke Baad Savdhani)

बच्चा चाहे प्राकृतिक रूप से हो या अन्य किसी उपचार के ज़रिए हो, ख्याल रखना ज़रूरी है। बच्चे का विकास होता तो माता के गर्भाशय में ही हैं और ज़रा सी लापरवाही आपको या होने वाले बच्चे के लिए नुकसानदायक हो सकती हैं।

आई यू आई के बाद क्या करना चाहिए? (IUI Ke Baad Kya Karna Chahiye)

  • 3 से 4 लीटर तक पानी ज़रूर पीना चाहिए।
  • शुरुआती दिनों में ज्यादा से ज्यादा आराम करना चाहिए।
  • तरल पदार्थ का अधिक सेवन करना चाहिए जैसे कि जूस, नारियलपानी आदि।
  • अपने आहार में मौसमी फल(Seasonal Fruits) और सब्जियों को शामिल कीजिए।
  • योग को अपनी दिनचर्या में शामिल कीजिए।
  • तनाव को अपने आप से दूर रखें। यदि कोई परेशानी हो तो ध्यान (Meditation) कीजिए। इससे मन को शांति मिलेगी।
  • डॉक्टर की बताई गई दवाइयों का सेवन समय पर कीजिए।
  • दूध का सेवन कीजिए। यदि किसी को दूध से एलर्जी है तो दूध में प्रोटीन डालकर सेवन कीजिए।

आई यू आई के बाद क्या नहीं करना चाहिए?

  • भारी सामान न उठाए।
  • जिम को छोड़ दीजिए।
  • जंक फ़ूड(बाहर का खाना) का सेवन छोड़ दीजिए।
  • किसी मशीन यानि कंप्यूटर, लैपटॉप के इस्तेमाल से बचें।
  • कोशिश करें कि शुरूआती दिनों पर यातायात न करें।
  • बुखार-जुकाम होने पर अपने डॉक्टर से पूछे बिना किसी भी दवाई का सेवन न करें।
  • किसी भी तरह के नशे के सेवन से दूर रहें।
  • चाय-कॉफ़ी का सेवन न करें। इनके सेवन से शरीर में कैफीन (Caffeine) जाता है जो गर्भवती महिला के लिए सही नहीं है।

आई यू आई के बाद सावधानी ज़रूरी है (IUI Ke Baad Savdhani in Hindi)

आई यू आई करवाने के बाद कुछ सावधानियां बर्तनी होती हैं क्योंकि आई यू आई के बाद महिला गर्भधारण कर लेती है। एक प्राकृतिक गर्भावस्था में जिन बातों का ख्याल रखना होता है, उसी तरह आई यू आई गर्भावस्था में उन्हीं बातों का ख्याल रखना होता है। उसकी ज़रा-सी लापरवाही होने वाले बच्चे को नुकसान पहुंचा सकती हैं। बताई गई बातों का ध्यान रखें।

आई यू आई की सफल कहानी

कई कोशिशों के बाद भी मेरा गर्भधारण नहीं हुआ था। शादी के 5 साल तक भी हमर कोई बच्चा नहीं हुआ तो मैंने अपनी सभी उमीदे छोड़ दी थी। फिर एक दिन इंटरनेट से मेडिकवर फर्टिलिटी के बारे में पता चला।

उसके बाद हम अगले दिन वहाँ गए और डॉक्टर्स से मिले। डॉक्टर ने कुछ टेस्ट करवाएं जिसके बाद उन्होंने हमें आई यू आई करवाने की सलाह दी।

हमारी सहमति के साथ उन्होंने हमारा इलाज शुरू किया। साथ ही उन्होंने यह भी बताया की आई यू आई के बाद क्या सावधानिया रखनी है। इलाज सफल हुआ और मेरा गर्भधारण हो गया। इतने सालों का मेरा माँ बनने का सपना मेडिकवर फर्टिलिटी ने पूरा किया। मेडिकवर फर्टिलिटी को मेरी ओर से दिल से धन्यवाद!

आई यू आई उपचार के लिए मेडीकवर फर्टिलिटी एक क्लिनिक है।

मेडीकवर फर्टिलिटी यूरोप के सर्वश्रेष्ठ फर्टिलिटी क्लीनिकों में से एक है। यहाँ के आधुनिक उपकरणों से जाँच की प्रक्रिया की जाती है।

मेडीकवर फर्टिलिटी ने आई यू आई के कई सफल ट्रीटमेंट किए हैं जिनसे कई लोगों को माता-पिता बनने का सुख मिला है। साथ ही यहाँ आपकी जानकारी पूर्ण रूप से गुप्त रखी जाती है। यदि आपको इस विषय से सबंधित कोई भी जानकारी चाहिए तो आप इस नंबर पर +917862800700 संपर्क कर सकते हैं।

FAQs

प्रश्न: आई यू आई के क्या खाना चाहिए? (IUI Ke Baad Kya Khana Chahiye)

उत्तर: आई यू आई के बाद आप साधारण भोजन खा सकती है। कोई विशेष प्रकार के परहेज की ज़रूरत नहीं होती है लेकिन कोशिश करें आप संतुलित और स्वस्थ आहार लें।

प्रश्न: आई यू आई के कितने दिन बाद प्रेगनेंसी टेस्ट करें? (IUI Ke Kitne Din Baad Pregnancy Test Kare in Hindi)

उत्तर: आई यू आई के करीब 14 से 16 दिन के बाद टेस्ट कर सकती हैं। आपके डॉक्टर आपको बताएंगे की कब टेस्ट किया जाना चाहिए।