Bdhti Umar Me Maa Bnna Smasya Nahi

अपने सपनोँ को पूरा करने की चाह में अपनी उम्र का ख्याल हर इंसान भूल जाता है। मेरे परिवार में माँ के रूप में सास, पिता के रूप में ससुर, बहुत प्यार करने वाले पति और एक हम सबका दुलारा बेटा था। लेकिन घर के हालात कुछ ठीक नहीं थे, जिस कारण दूसरे बच्चे की इच्छा को मन में छुपा के रख लिया था। अपने पति की आर्थिक स्थिति को ध्यान में रख, मैंने उनका साथ देने का फ़ैसला किया।

लेकिन मेरी 37 की उम्र हो चली थी और दूसरे बच्चे की लालसा, आज भी हम दोनों साथियों के भीतर थी। मुझे मेरा परिवार पूरा करने कि इच्छा अक्सर बेटा याद दिलाता था, जिसकी ख्वाहिश अपने एक छोटे भाई-बहन के साथ खेलने की होती थी। जब हमारे हालात संभले तो मैं और मेरे पति, दूसरे बच्चे की लिए तैयार थे। लेकिन तब तक शायद काफी देर हो चुकी थी।

हमने कई डॉक्टरों से सलाह ली, तो कई अस्पतालों के चक्कर काटे, किसी को हमारी समस्या समझ नहीं आ रही थी। एक दिन इन्टरनेट सर्फ करते हुए, मैंने मेडिकवर फर्टिलिटी की अत्याधुनिक यूरोपियन तकनीक और तकनीकी विशेषज्ञता के बारे में पढ़ा और यहाँ जाने का फ़ैसला लिया।

डॉक्टर ने धैर्य से हमारी बाते सुनने के बाद कुछ टेस्ट करवाएं और बताया की बढ़ती उम्र के साथ प्रजनन क्षमता कम होने के कारण मेरे माँ बनने के सपने में बाधा आ रही है। हमें भरोसा दिलाते हुए डॉक्टर ने आई वी एफ की सलाह दी और अपनी लैब में इस प्रकिया को दिखाते हुए समझाया।

एक नई उम्मीद की रोशनी नज़र आने लगी थी और मैंने आई वी एफ ट्रीटमेंट शुरू करवाया। कुछ ही समय बाद मेरा गर्भ ठहरा और एक नन्ही मेहमान हमारे घर आई। हम मेडिकवर फर्टिलिटी का दिल से शुक्रिया अदा करते हैं, जिन्होंने मेरा परिवार का सपना पूरा करने में मदद करके, हमारी बेरंग ज़िन्दगी में रंग भरे।